Wednesday, September 2, 2009

चिठ्ठी लिखकर जरा दिखाओ क्या होता है मैनेजमेंट?

पहला प्रश्न पूछता तुमसे
अपने बारे में बतलाओ?
उसके बाद टेस्ट फिर होगा
तब तक बैठ के खाना खाओ!

अबतक कितना अनुभव पाया
कितना कंहा मिला पैसा?
सब हिसाब खुलकर बतलाओ
काम किया कैसा - कैसा?

भाषा कितनी आती तुमको
ये भी जरा बताना?
क्या तुमको कम्पूटर आता
इसको नही छिपाना?

पढी पढाई कैसी-कैसी
साफ़-साफ़ समझाओ?
हेरा-फेरी कितनी आती
ये भी तुम बतलाओ?

चिठ्ठी लिखकर जरा दिखाओ
क्या होता है मैनेजमेंट?
किसको कंसल्टेंट रखोगे
किसको करोगे परमानेंट?

अभी काम जो बड़ा किया है
उसका भेद बताओ?
कैसे बड़ा काम वो था
ये भी तुम समझाओ?

आप यंहा पर आते हो तो
पहला काम करोगे क्या?
अपने अनुभव से तुम बोलो
ऑफिस को दोगे क्या - क्या?

3 comments:

अनुनाद सिंह said...

वाह! बढ़िया रचना है।

Sudhir K. Rai said...

शिशुपाल जी

आप कैसे आप पूरे फायरिंग मूड में है

वह क्या खूब लिख रहे है

लिखते रहिये

Udan Tashtari said...

बहुत सही!!